किसानों की सरकार से 5वें दौर की वार्ता आज, नतीजा नहीं निकला तो संसद का करेंगे घेराव

by

New Delhi: केंद्र के कृषि कानूनों के खिलाफ किसान दिल्ली बॉर्डर पर 10वें दिन भी जमे हुए हैं. शनिवार को किसानों और सरकार के बीच 5वें दौर की बातचीत होनी है. इस बीच, किसान संगठनों ने प्रधानमंत्री का पुतला फूंकने की घोषणा की है. साथ ही 8 दिसंबर को भारत बंद का आह्वान किया है.

इसे भी पढ़ें: बीजेपी ने हैदराबाद नगर निगम चुनावों में टीआरएस को दिया बड़ा झटका

किसान प्रदर्शन का 10वां दिन

किसान चिल्ला बॉर्डर (दिल्ली-नोएडा लिंक रोड) पर प्रदर्शन कर रहे हैं. एक किसान ने कहा कि अगर सरकार के साथ बातचीत में आज कोई नतीजा नहीं निकला तो फिर संसद का घेराव करेंगे. कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की सीमाओं पर डटे किसान पिछले नौ दिनों से डटे हुए हैं और उनके प्रदर्शन का 10वां दिन है. तमाम मसलों को लेकर दो बार केंद्र सरकार के साथ चर्चा हुई है. मगर अभी तक कोई ठोस परिणाम सामने नहीं आाया है.

Read Also  सदर अस्प‍ताल रांची से शुरू हुई झारखंड में कोरोना वैक्सीनेशन, हेमंत सोरेन ने कहा- वरदान साबित होगा

किसान कृषि कानून वापस लेने की मांग पर अड़े हैं, न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) पर ठोस भरोसा चाहते हैं. वहीं केंद्र सरकार कानूनों को वापस लेने की बात तो नहीं मान रही है, लेकिन किसानों की कुछ ऐसी मांग हैं जिनपर सरकार राजी होती दिख रही है.

इसे भी पढ़ें: हैदराबाद नगर निगम चुनाव में किसी को बहुमत नहीं, मेयर बनाने के लिए AIMIM और TRS करेंगे गठबंधन

किसानों को राहुल का समर्थन

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने किसानों के मुद्दे पर पीएम मोदी को निशाने पर लिया है. राहुल गांधी ने कहा कि बिहार का किसान MSP-APMC के बिना बेहद मुसीबत में है और अब PM ने पूरे देश को इसी कुएं में धकेल दिया है. ऐसे में देश के अन्नदाता का साथ देना हमारा कर्तव्य है.

Read Also  सदर अस्प‍ताल रांची से शुरू हुई झारखंड में कोरोना वैक्सीनेशन, हेमंत सोरेन ने कहा- वरदान साबित होगा

2 thoughts on “किसानों की सरकार से 5वें दौर की वार्ता आज, नतीजा नहीं निकला तो संसद का करेंगे घेराव”

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.