जम्मू-कश्मीर में बड़ा आतंकी हमला, CRPF के 40 जवान मारे गये

by

Srinagar: जम्मू-कश्मीर में हुए एक आंतकी हमले में CRPF के  कम से कम 40 जवानों के मारे जाने की खबर है. हमले में कई अन्य जवान घायल भी बताए जा रहे है.

यह हमला पुलवामा जिले के अवंतीपुरा इलाके में हुआ. बताया जा रहा है कि आतंकियों ने CRPF के एक काफिले को आईईडी के जरिये निशाना बनाया. इस हमले की जिम्मेदारी जैश-ए-मोहम्मद ने ली है.

घायल जवानों को श्रीनगर के सेना हॉस्पिटल में भर्ती किया गया है. इलाके में गाड़ियों की आवाजाही रोक दी गई है और  हमलावरों को खोजने का काम चल रहा है.

हमले में CRPF के जवानों को ले जा रही बस को मुख्‍य रूप से निशाना बनाया गया था. हालांकि बसों में सवार जवानों की  सुरक्षा में पुलिस की गाड़ियां आगे-पीछे चल रही थी. यह काफिला जम्मू से श्रीनगर जा रहा था. लोकसभा चुनाव के मद्देनजर इस हमले को बेहद खतरनाक और सुरक्षाबलों के लिए झटके के तौर पर देखा जा रहा है.

काफिले में 2500 जवान

CRPF के डीजी आरआर भटनागर ने कहा कि जिस काफिले पर हमला हुआ उसमें 2500 जवान शामिल थे. करीब 2500 जवान अलग-अलग बसों से जा रहे थे. तभी जैश-ए- मोहम्मद के आतंकी ने स्कॉर्पियो से CRPF के काफिले में से एक बस में टक्कर मार दी, जिसमें करीब 40 जवान शहीद हो गए. इस कार में 350 किलो विस्फोटक रखा गया था.

खबरों के मुताबिक रक्षा अधिकारी ने हताहतों की संख्या बढ़ने की आशंका जताई है. दरअसल कई जवानों की हालत नाजुक है. मारे गए जवान सीआरपीएफ़ के जवान 54 बटालियन के थे. आईडी धमाका इतना जबर्दस्त था कि बस के परखच्चे उड़ गए

इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस घटना की निंदा करते हुए कहा है कि जवानों का यह त्याग व्यर्थ नहीं जाएगा. पूरा राष्ट्र शहीद जवानों के परिवार के साथ खड़ा है.

गृह मंत्री ने जायजा लिया

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक से बातचीत की और राज्य की स्थिति का जायजा लिया. उन्होंने बिहार में शुक्रवार का अपना कार्यक्रम भी रद्द कर दिया. वह जम्मू कश्मीर जा सकते हैं. गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि गृहमंत्री ने राज्यपाल से बाचतीत की, जिन्होंने उन्हें राज्य की वर्तमान स्थिति के बारे में बताया. सिंह ने केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल  के महानिदेशक आर आर भटनागर से भी बातचीत की और उन्हें जरूरी निर्देश दिए.

घायलों का हाल जानने कई अधिकारी श्रीनगर स्थित सेना के अस्‍पताल पहुंचे हैं.  हमले में कई अन्‍य वाहन भी क्षतिग्रस्‍त हुए हैं. यह बस जम्मू से श्रीनगर आ रही सेना के काफिले का हिस्सा थी.

इस बीच हमले की आतंकी संगठन जिम्मेदारी जैश-मोहम्मद ने ली है. साथ ही इसे आत्मघाती हमला बताया है.

यह हमला श्रीनगर से सिर्फ 20 किलोमीटर की दूरी पर हुआ है. इस बीच रक्षा राज्य मंत्री सुभाष भामरे ने कहा कि दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा.

खबरों के मुताबिक जैश ने बयान जारी कर कहा है कि आदिल अहमद उर्फ़ वक़ास कमांडो ने इस हमले को अंजाम दिया है. .

इस बीच कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी, रेल मंत्री पीयुष गोयल, वित्त मंत्री अरूण जेटली, आरजेडी के प्रमुख लालू प्रसाद, बिहार में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव, पूर्व केंद्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती उत्तर प्रदेश के पूर्व सीएम और सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने ट्वीट के जरिए इस हमले की निंदा की है.

भारत के पूर्व सेना प्रमुख और केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री जनरल वीके सिंह ने इस आतंकी हमले को कायरतापूर्ण बताते हुए ट्वीट किया है, ”एक सैनिक और भारतीय नागरिक होने के नाते इस कायरतापूर्ण हमले को लेकर मेरा ख़ून खौल रहा है. पुलवामा में हमारे बहादुर सैनिकों ने जान गंवाई है. मैं इस निःस्वार्थ बलिदान को सलाम करता हूं और वादा करता हूं कि हमारे सैनिकों के ख़ून के हर क़तरे का बदला लिया जाएगा.”

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.