भारत में अब तक करीब 4 लाख लोगों को लगा कोरोना टीका, सामने आए साइड इफेक्ट्स के 580 केस

by

New Delhi: भारत में दो-दो वैक्सीन के साथ कोरोना टीकारकण की शुरुआत हुई थी. इसके तीन दिन बीत चुके हैं. तीसरे दिन यानी सोमवार को 25 राज्यों में कुल 1,48,266 लोगों का टीकाकरण किया गया. अब तक कुल 3,81,305 लोगों को टीके लगाए जा चुके हैं. पहले चरण में फ्रंटलाइन वर्कर्स और स्वास्थ्यकर्मियों को टीके लगाए जा रहे हैं.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अतिरिक्त सचिव मनोहर अगनानी ने सोमवार की शाम संवाददाता सम्मेलन में टीकाकरण के आंकड़े जारी किए. उन्होंने कहा कि सोमवार को 25 राज्यों में 7704 केंद्रों पर टीके लगाए गए. सोमवार को बिहार में 8656, दिल्ली में 3111, हरियाणा में 3486, झारखंड में 2687 तथा उत्तराखंड में 1579 लोगों को टीके लगाए गए.

दुष्प्रभावों से संबंधित कुल 580 मामले

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अतिरिक्त सचिव ने कहा कि अब तक टीके के दुष्प्रभावों से संबंधित कुल 580 मामलों की रिपोर्ट हुई है. इनमें सात ऐसे हैं, जिनमें लोगों को अस्पताल में भर्ती करने की जरूरत पड़ी. दिल्ली में तीन लोग अस्पताल में भर्ती किए गए थे, जिनमें से दो डिस्चार्ज हो गए तथा एक पटपड़गंज स्थित मैक्स अस्पताल में भर्ती है. एक व्यक्ति उत्तराखंड के एम्स ऋषिकेश में भर्ती है. एक व्यक्ति छत्तीसगढ़ के राजनंदगांव के मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती है. कर्नाटक में दो मामले हैं, जिनमें से एक ठीक हो चुका है. उसे चित्रदुर्ग के जिला अस्पताल में निगरानी में रखा गया है. दूसरा भी चित्रदुर्ग के जनरल अस्पताल में निगरानी में है.

दो मौतों की सूचना

अतिरिक्त सचिव ने कहा कि टीका लगने के बाद अब तक दो मौतों की सूचना मिली है. एक 52 वर्षीय पुरुष की मुरादाबाद में 17 जनवरी को मौत हुई है. मेडिकल बोर्ड के जरिए उसका पोस्टमार्टम किया गया है, जिसमें मृत्यु का कारण कार्डियोपल्मोनरी डिजीज बताई गई है. मौत का टीके से कोई संबंध स्थापित नहीं हुआ है.

कर्नाटक बेल्लारी में एक 43 वर्षीय व्यक्ति की 18 जनवरी को मौत हुई है. उसने 16 जनवरी को टीका लगाया था. इसकी मौत का कारण इंटीरियर वाल संक्रमण पाया गया है. उसकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट आनी है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.