25 दिसंबर को क्रिसमस क्यों मनाया जाता है (Christmas Day History) 2022

क्रिसमस क्यों मनाया जाता है (Christmas Day History) 2022

Merry Christmas: क्रिसमस ईसाई धर्म मानने वाले लोगों का सबसे खास पर्व है. इस त्‍योहार को हर साल 25 दिसंबर के दिन क्रिसमस डे (25 December Christmas Day) के रूप में सेलिब्रेट किया जाता है. एक दिन पहले यानी 24 दिसंबर से ही क्रिसमस धूमधाम शुरू हो जाती है.

ईसाई धर्म के लोग क्रिसमस डे को यीशू मसीह के जन्मदिन के रूप में मनाते हैं. भारत एक धर्मनिर्पेक्ष राष्‍ट्र है. यहां सभी धर्म के लोग हर पर्व-त्‍योहार साथ मनाते हैं. इसलिए ईसाई धर्म के साथ सभी धर्म के लोग क्रिसमस का त्योहार धूमधाम के साथ मनाते हैं.

आप भी निश्चित तौर पर सभी के साथ क्रिसमस मनाते दिखते हैं. लेकिन क्या आप क्रिसमस के इतिहास और इसके महत्व के बारे में जानते हैं.

ईसाई धर्म के लोग क्रिसमस से एक दिन पहले यानी 24 दिसंबर से ही क्रिसमस का पर्व मनाते हैं. 24 दिसंबर की आधी रात को लोग चर्च जाते हैं और यहां विशेष तौर पर प्रार्थना की जाती है. ईसाई धर्म के लोग अपने प्रभु ईसा मसीह को याद करते हैं. फिर एक दूसरे को क्रिसमस की बधाई देते हैं और तोहफे (Christmas Gift) बांटते हैं.

क्रिसमस का महत्व (Christmas Day 2022 significance)

सदियों पहले क्रिसमस का पर्व केवल पश्चिमी देश और ईसाई बहुल इलाकों में ही मनाया जाता था. लेकिन आज यह दुनियाभर में मनाया जाने वाला त्‍योहार बन गया है. क्रिसमस पर्व को लेकर ऐसी मान्यता है कि लोगों को पाप से मुक्त कराने और रोकने के लिए ईश्वर ने अपने बेटे को भेजा था और ईसा मसीह ने लोगों को पाप से मुक्त कराने से संघर्ष में स्वयं के प्राण त्याग दिए.

क्रिसमस का इतिहास (Christmas Day History)

क्रिसमस का इतिहास कुछ साल नहीं बल्कि कई सदियों पुराना है. कहा जाता है कि सबसे पहले क्रिसमस रोम देश में मनाया गया था. लेकिन 25 दिसंबर के दिन को क्रिसमस से पहले रोम में सूर्यदेव के जन्मदिन के रूप में मनाया जाता था. उस वक्त रोम के सम्राट सूर्यदेव को अपना मुख्य देवता मानते थे और सूर्येदव की अराधना की जाती थी.

क्रिसमस का इतिहास (Christmas Day History)

लेकिन 330 ई.आते-आते रोम में ईसाई धर्म का प्रचार-प्रसार बहुत तेजी से बढ़ने लगा. रोम में अधिक संख्या में ईसाई धर्म के अनुयायी हो गए. इसके बाद 336 ई. में ईसाई धर्म के अनुयायियों ने ईसा मसीह को सूर्यदेव का अवतार मान लिया और इसके बाद से 25 दिसंबर के दिन को ईसा मसीह के जन्मदिन के रूप में क्रिसमस का त्योहार मनाए जाने की परंपरा की शुरुआत हुई.

लोग इस दिन को बुराई पर अच्छाई की जीत के तौर पर मनाते हैं. क्रिसमस का त्योहार ईसाई धर्म के लोगों के लिए नया साल होता है. हर साल की तरह इस साल यानी 2022 में भी क्रिसमस डे 25 दिसंबर को मनाया जाएगा.

क्रिसमस को लेकर अक्‍सर पूछे जाने वाले सवाल और जवाब

क्रिसमस की शुरूआत कहां से हुई?

क्रिसमस का उत्सव रोम में लगभग 336 में शुरू हुआ, लेकिन 9वीं शताब्दी तक यह ईसाईयों का एक प्रमुख त्योहार नहीं बन पाया.

क्रिसमस का त्‍योहार क्‍यों मनाया जाता है?

ईसाई समुदाय के लोग क्रिसमस यीशू मसीह के जन्मदिवस के रूप में सेलिब्रेट करते हैं, शुरुआत में ईसाई समुदाय के लोग यीशू यानि ईसा मसीह के जन्मदिन को एक त्योहार के रूप में नहीं मनाते थे, लेकिन, चौथी शताब्दी के आते-आते उनके जन्मदिन को एक त्योहार के तौर पर मनाया जाने लगा.

क्रिसमस के दिन किसका जन्‍म हुआ?

क्रिसमस को बड़ा दिन भी कहा जाता है. इसे ईसा मसीह या यीशु के जन्म की खुशी में मनाया जाता है. क्रिसमस 25 दिसंबर को मनाया जाता है. इस अवसर पर पूरी दुनिया में छुट्टी रहता है.

क्रिसमस कब और क्‍यों मनाया जाता है?

क्रिसमस ईसाईयों का त्यौहार है. यह यीशु मसीह के जन्म का उत्सव है. उन्‍हें ईसाई धर्म में ईश्वर का पुत्र कहा जाता है. यह पर्व ईसा मसीह के जन्मोत्सव के रूप में मनाया जाता है. यह पर्व संपूर्ण विश्व में 25 दिसंबर को मनाया जाता है.

क्रिसमस का अर्थ क्‍या होता है?

क्रिसमस ईसाईयो का त्‍योहार है. इसे 25 दिसंबर को यीशु मसी के जन्‍म दिवस के मौके पर मनाया जाता है. लोग एक-दूसरे को मैरी क्रिसमस कहकर शुभकामनाएं देते हैं और क्रिसमस गिफ्ट देने-लेने की परंपरा है.

क्रिसमस की विशेषता क्‍या है?

क्रिसमस ईसा मसीह के जन्म की याद में मनाया जाता है. ईसाई मानते हैं कि ईसा मसीह ईश्वर के पुत्र हैं. क्रिसमस नाम क्राइस्ट मास से आया है. एक सामूहिक सेवा वह है जहाँ ईसाई याद करते हैं कि यीशु हमारे लिए मरा और फिर जीवन में वापस आ गया.

लोग क्रिसमस पर क्‍या खाते हैं?

क्रिसमस की शाम को कई तरह के व्यंजन बनाए जाते हैं. इनमें से एक बहुत पॉपुलर है वो है रोस्टेड चिकन. वैसे तो ट्रेडिशनल क्रिसमस डिनर में टर्की जरूर होता है, लेकिन जो लोग टर्की पसंद नहीं करते, उनके लिए खासतौर से रोस्टेड चिकन का ऑप्शन रखा जाता है. यह डिश आपके लजीज स्वाद की चाहत को पूरा करती है.

यीशु मसीह का धर्म क्‍या है?

ईसाई धर्म के प्रवर्तक ईसा मसीह (जीसस क्राइस्ट) का जन्‍म रोमन साम्राज्य के गैलिली प्रान्त के नजरथ में हुआ था. ईसाई धर्म से जुड़े महत्‍वपूर्ण तथ्‍य: (1) ईसाई धर्म के संस्थापक हैं ईसा मसीह. (2) ईसाई धर्म का प्रमुख ग्रंथ है- बाइबिल

क्रिसमस ट्री कैसे बनाया जाता है?

आप क्रिसमस ट्री को खूबसूरत और रंग बिरंगे फूलों से सजा सकते हैं. हरे रंग के ट्री पर लाल या सफेद रंग के फूल खूबसूरत लगेंगे. आप चाहें तो फूलों के साथ ही फलों का इस्तेमाल भी सजावट में कर सकते हैं. आप क्रिसमस ट्री पर प्लास्टिक के फलों को सजाएं.


Leave a Reply

%d bloggers like this: