नवरात्रि के रंग में रंगे राव और मौनी रॉय

by

मेड इन चाइना का ट्रेलर अहमदाबाद के एक गुजराती व्यापारी की दुनिया की झलकियां पेश करता हैए जिसका जीवन चीन की यात्रा के बाद बदल जाता है। इसके थीम को देखते हुएए यह कहना गलत नहीं होगा कि फिल्म में कई ऐसे एलिमेंट हैं जो गुजराती संस्कृति को उजागर करते हैंए जिसमें दो गरबा नम्बर्स श्सानेडो और ओधनीश् के रिडक्स वर्जन भी शामिल हैं। नवरात्रि के मौके पर मौनी रॉय और राजकुमार राव ने बताया कि आखिर कैसे वे इस त्यौहार का आनंद उठाते हैं।

श्नवरात्रि पूरे देश में अलग.अलग तरीकों से मनाई जाती है। उन्हें माँ दुर्गा या अम्बे कहेंए वह माँ है जिनकी हम पूजा करते हैं। बच्चे के रूप मेंए दुर्गा पूजा बहुत खास थी. पंडालए ओन्जोलीए डांसए कुछ बेहतरीन खानों का आनंदए दोस्तों के साथ घूमना और नए कपड़े पहनना ण्ण्ण् जब मैं दिल्ली में पढ़ रही थीए तो मैं अपने घर ;कोलकाताद्ध अपने माता पिता के साथ त्यौहार मनाने जाया करती थी। जब मैं मुंबई आईए तब मुझे नवरात्रि सेलिब्रेशन और गरमा आउटिंग्स से रूबरू हुई। मुझे यहाँ भी वही उत्साह जैसे. डांडिया रासए गरबाए रंग.बिरंगे कपड़ेए युवा और खुश चेहरे और कुछ शानदार म्यूजिक देखने सुनने को मिलता है।श्

वह आगे कहती हैंए ष्जब मेरे पिता जीवित थेए तो मैं मुंबई छोड़कर पूजा के लिए घर चली जाया करती थीए लेकिन अब मेरी मां यही आ जाती है और हम साथ रहते हैं। मैं मंगोलियाई महा.अष्टमी और अन्य दिनों के लिए भी समय निकालने का प्रयास करती हूं।श्

वहीं दूसरी तरफए राजकुमार शुरू से ही नवरात्री का त्यौहार अलग तरह से ही मानते आये हैं। वे कहते हैंए ष्मैं गुरुग्राम में पला बढ़ाए और वहाँ पर नवरात्रि का मतलब पूजा.पाठ और उपवास और स्थानीय कलाकारों द्वारा पेश किये जाने वाले राम लीला के प्रदर्शन को देखने के तौर पर होता था। मैं पूरे नौ दिन अपनी मां के साथ व्रत रखा करता था। मैं अब भी ऐसा करता हूंए हालांकि अब पूरे नौ दिन तक उपवास रख पाना मुश्किल होता है। उस समयए मैंने गरबा केवल फिल्मों में ही देखा था। फिल्म और टेलीविजन इंस्टीट्यूट में पढ़ाई के दौरानए हम सभी तरह के त्यौहार मनाते थे। मेरा एक बंगाली दोस्त था जिसके साथ मैं दुर्गा पूजा के पंडालों में जाता था। मैं कई गरबा.डांडिया पंडालों में भी गया हूँए जहाँ मुझे हमेशा लोगों के बीच गजब की ऊर्जा देखने को मिलती है। एक ही त्योहार को पूरे भारत में अलग.अलग तरीके से मनाया जाता है और यह सब कुछ एक ही समय पर होता है। यह हमारे जैसे देश की खूबसूरती है।श्

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि मौनी और राजकुमार दोनों ही डांस मूव्स को आसानी से कैप्चर कर लेते हैं। जब उनसे पूछा गया कि यदि उन्हें मेड इन चाइना में गरबा रास करने का मौका मिलता तो इसके जवाब में मौनी कहती हैंए ष्मुझे अच्छी तरह से गरबा करना नहीं आता। मैं स्टेप्स को मैनेज कर सकती हूं लेकिन सभी डांस फॉर्म्स के अपने अलग नेचर और बाउंस होता है। मुझे इसे बेहतर ढंग से करने के लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ी। फिल्म में हमारे पास एक सटीक गरबा सांग भले ही नहीं हैए लेकिन यह एक अद्भुत डांस नंबर जरूर है।ष्

यह स्वीकार करते हुए कि उन्हें डांस से प्यार हैए राजकुमार शेयर करते हैंए ष्मुझे डांस करने में मजा आता है और गरबा मेरे पसंदीदा डांस फॉर्म्स में से एक है। यह देखने में
बहुत सिंक्रनाइज़ और सुंदर है। वास्तव में मुझे डांस करना इतना पसंद है कि मैंने उन लोगों के साथ बेमतलब की बारातों में डांस किया है जिन्हें मैं जानता तक नहीं। उसके बाद कई बार जाकर शादियों में खाना भी खाया है। गुरुग्राम में बिताए हुए सालों के दौरानए मैं एक डांस ग्रुप का हिस्सा था और भांगड़ाए ओडिसीए हरियाणवी और राजस्थानी फोक डांस फॉर्म पर परफॉर्म किया करता था। यह कुछ ऐसा है जो मुझे बहुत खुश कर देता है।ष्

मेड इन चाइना को मैडॉक फिल्म्स ने जिओ के एसोसिएशन मे प्रोड्यूस किया हैण् फिल्म मिखाइल मुसाले द्वारा निर्देशित है और इसमें बोमन ईरानीए सुमीत व्यासए परेश रावल और गजराज राव भी अहम किरदार में मौजूद है। फिल्म इस दिवाली पर रिलीज होने के लिए पूरी तरह से तैयार है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.