डिश टीवी इंडिया ने ‘डिश-अ-थॉन 2020’ के दूसरे संस्करण के विजेताओं की घोषणा की

by

~ आईआईटी खड़गपुर की टीम हैकओवरफ्लो बनी विजेता ~

~ इस कार्यक्रम में कुल 949 टीमों ने हिस्‍सा लिया ~

राष्ट्रीय, जून, 2020: भारत की प्रमुख डीटीएच कंपनी डिश टीवी इंडिया लिमिटेड ने देश की सबसे बड़ी एमएंडई/ब्रॉडकास्टिंग इंडस्ट्री हैकाथॉन ‘डिश-अ-थॉन 2020’ के दूसरे संस्करण का सफलतापूर्वक समापन किया। यह हैकाथॉन 21 जून 2020 को संपन्‍न हुई। 48 घंटे लंबी यह प्रतियोगिता वर्चुअल फॉर्मेट में संचालित की गई थी। इसमें 64 टीमों ने एक-दूसरे से मुकाबला किया और एमएंडई/ब्रॉडकास्टिंग उद्योग के लिये कुछ दिलचस्‍प दूरदर्शी आइडियाज का प्रदर्शन किया। जजेस के साथ लाइव डेमो और क्‍यूएंडए के कठिन राउंड्स के बाद, आईआईटी खड़गपुर की टीम हैकओवरफ्लो विजेता बनी, जबकि टीम डिश टीवी और डी-ओटीटी क्रमश: पहली और दूसरी रनरअप रहीं। गौरतलब है कि इस हैकाथॉन के पहले सीजन को जबर्दस्‍त सफलता मिली थी।

इस साल की विजेता टीमों ने कई सॉल्‍यूशन तैयार किए। इसमें अनोखे और स्मार्ट फीचर्स के माध्यम से ओटीटी प्लेटफॉर्म्स में यूजर एंगेजमेन्ट बढ़ाना, एआई और एमएल का उपयोग करते हुए ऑटोमैशन के माध्यम से सेल्फ-हेल्प और कनेक्टेड डिवाइसेज में यूएक्स को बेहतर बनाने जैसे समाधान शामिल हैं। इनक्युबेटआईएनडी के साथ भागीदारी में आयोजित डिश टीवी के फ्लैगशिप हैकाथॉन डिश-अ-थॉन 2020 का लक्ष्य यंग इनोवेटर्स को उद्योग के विशेषज्ञों के साथ बात करने का मौका देना है। साथ ही मेंटॉर्स के साथ आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई), ऑगमेंटेड रियलिटी (एआर), वर्चुअल रियलिटी (वीआर) और बिग डाटा जैसी टेक्नोलॉजीज के क्षेत्र में नये समाधानों को साथ मिलकर बनाने और विकसित करने के लिए काम करना है। 

‘डिश-अ-थॉन 2020’ के सफल समापन पर टिप्पणी करते हुए डिश टीवी इंडिया के एक्‍जीक्‍यूटिव डायरेक्‍टर एवं ग्रुप सीईओ श्री अनिल दुआ ने कहा, ‘‘डिश-अ-थॉन 2020 को मिले जबर्दस्‍त रिस्‍पांस को देखकर हम बहुत खुश हैं। डिश टीवी की टीम को दूसरी बार एमएंडई/ब्रॉडकास्टिंग उद्योग की सबसे बड़ी हैकाथॉन का सफल संचालन कर गर्व महसूस हो रहा है। प्रतिभागियों द्वारा पेश किए गए अभिनव समाधान और आइडियाज एमएंडई/ब्रॉडकास्टिंग उद्योग के भविष्य को आकार देंगे। हम सभी विजेताओं को बधाई देते हैं और उनके उज्‍जवल भविष्य की कामना करते हैं। हम लगातार सहयोग देकर इस पहल को सफल बनाने वाले अपने पार्टनर्स को भी धन्यवाद देते हैं।’’

ज्यूरी ने प्रतियोगियों का कठिन मूल्यांकन किया, जिससे उन्हें साथ मिलकर नये समाधानों और टेक्नोलॉजी का निर्माण और विकास करने के लिये अपनी कल्पना और रचनात्मकता का संयोजन करने में मदद मिली। ‘डिश-अ-थॉन 2020’ में देशभर के प्रतियोगियों ने हिस्‍सा लिया। इसमें 1500 से अधिक युवा और उत्साही टेकीज़, स्टार्टअप्स, स्टूडेन्ट्स, डेवलपर्स, डिजाइनर्स और डेटा साइंटिस्ट्स से एंट्रीज प्राप्‍त हुईं और 949 टीमों ने अपनी सर्वश्रेष्ठ तकनीकी कुशलता का प्रदर्शन किया।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.