जमीन के लिए भाई के दो टुकड़े कर डाला, महिला समेत छह आरोपी गिरफ्तार

0
10
जमीन के लिए भाई के दो टुकड़े कर डाला, महिला समेत छह आरोपी गिरफ्तार
जमीन के लिए भाई के दो टुकड़े कर डाला, महिला समेत छह आरोपी गिरफ्तार

Khunti: जमीन विवाद को लेकर मुरहू थाना क्षेत्र के इठे गांव से अपहृत कानू मुंडा (24) की नृशंस हत्या कर दी गई. कानू मुंडा के सिर और धड़ को अलग कर हत्यारों ने दो जगहों में गाड़ दिया था. पुलिस ने मामले का उद्भेदन करते हुए हत्या में संलिप्त एक महिला सहित छह आरोपितों को रविवार को गिरफ्तार कर लिया.

कानू मुंडा का सिर तपकारा थाना क्षेत्र के गोपला जंगल से और धड़ मुरहू थाना क्षेत्र के डुलवा टोंगरी से बरामद किया गया. खूंटी के एसडीपीओ कार्यालय में रविवार की रात आठ बजे आयोजित पत्रकार वार्ता में रांची के ग्रामीण एसपी और खूंटी के प्रभारी पुलिस अधीक्षक नौशाद आलम ने बताया कि इठे गांव निवासी दशाएं मुंडा ने मुरहू थाने में लिखित आवेदन दिया था कि एक दिसंबर को वह अपने परिवार के साथ खेत में काम करने गया था.

उन्‍होंने बताया कि उनका बेटा 24 वर्षीय कानू मुंडा घर में अकेला था. जब दशाय मुंडा अपने परिवार के साथ शाम पांच बजे खेत से काम करके लौटा, तो देखा कि उसके घर के आसपास कुछ लोग जमा हैं.

पूछने पर लोगों ने बताया कि उनके बेटे कानू मुंडा को दोपहर करीब दो बजे कानू मुंडा का चचेरा भाई सागर मुंडा और उसके दो अज्ञात साथियों ने मिलकर डरा धमका कर अपहरण कर लिया. घर वालों ने कानू मुंडा को खोजने का काफी प्रयास किया गया, लेकिन कोई जानकारी नहीं मिली.

दशाय मुंडा के लिखित बयान के आधार पर मुरहू थाने में मामला दर्ज कर प्राथमिक अभियुक्त सागर मुंडा और अन्य अपराधियों के विरुद्ध मामला दर्ज किया गया. मामले की गंभीरता को देखते हुए एसपी के निर्देश पर खूंटी के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अमित कुमार के नेतृत्व में पुलिस टीम का गठन किया गया.

एक महिला समेत छह आरोपी गिरफ्तार

पुलिस टीम ने त्वरित कार्रवाई करते हुए हत्याकांड में शामिल छह अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया. इसमें एक महिला भी शामिल है.

गिरफ्तार अभियुक्तों ने स्वीकार किया कि उन्होंने एक दिसंबर को कानू मुंडा की हत्या कर दी और शव को धड़ से अलग कर कानू मुंडा के सिर और धड़ को अलग-अलग जगहों पर छिपा दिया. कानू के धड़ को तपकारा थाना क्षेत्र के गोपला जंगल में तथा सिर को वहां से 15 किलोमीटर दूर पैलौल डम के पास डूलवा डोंगरी में छिपा दिया.

प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी की उपस्थिति में पुलिस ने अलग-अलग जगहों से सिर और धड़ बरामद कर लिया. घटना में प्रयुक्त बोलेरो, खून लगा हुआ तोनो, एक कुदाल, छह मोबाइल और अन्य सामान पुुलिस ने बरामद कर लिया.

अभियुक्तों में प्राथमिक अभियुक्त सागर मुंडा, अप्राथमिक अभियुक्त सीनू मुंडा दोना इठ निवासी, अमरजीत पूर्ति उलीहातू अड़की निवासी, जय मसीह ओडे़या तिनतिला निवासी, अनमोल टूटी, कमंता खूंटी और चांदमुनी गुड़िया इठे निवासी को गिरफ्तार कर लिया.

पहचान छिपाने के नीयत से धड़ से सिर को अलग कर दिया

गिरफ्तार अभियुक्तों ने स्वीकार किया कि एक दिसंबर को कानू मुंडा का अपहरण किया था और गोपला जंगल में तोनों से काटकर उसकी हत्या कर दी थी और पहचान छिपाने की नीयत से सिर और धड़ को अलग-अलग जगहों में गाड़ दिया था.

मामले के उद्भेदन में खूंटी अंचल के पुलिस इंस्पेक्टर शाहिद रजा, मुरहूू थाना प्रभारी चूड़ामणि टूडू, मुरहू थाना के एसआई बलराम कुमार सिंह, दिगंबर पंडा, विक्की ठाकुर और बानो थाना के सब इंस्पेक्टर रमेश कुमार के अलावा जैप के हवलदार अमित कुमार, आरक्षी सुधीर कुमार और सशस्त्र बल के जवान शामिल थे.

पुलिस ने घटना में प्रयुक्त बोलेरो जेएच 03जेएच 6359, एक कुदाल, चार मोबाइल और अन्य सामान के अलावा मृतक कानून मुंडा का मोबाइल को भी बरामद कर लिया.

Leave a Reply